Uttrakhand

नहीं देखा होगी कभी ऐसा कलेक्टर सबसे अलग है इनका अंदाज़

Deepak Rawat DM Haridwar

उत्तराखंड के IAS अधिकारी और नैनीताल के कलेक्टर दीपक रावत अक्सर भ्रष्ट अधिकारियों पर  कार्रवाई करने को लेकर सुर्खियों में रहते हैं । वहीं कलेक्टर के बेईमान अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने के कई वीडियो भी यू-ट्यूब में वायरल हो चुके हैं इसके साथ ही वे गरीबों की मद्द के लिए भी हमेशा तत्पर रहते हैं| आप नीचे दी गई वीडियो में खुद देख सकते हैं इनके जलवे कि किस प्रकार ईमानदार और तेजतर्रार कलेक्टर दीपक रावत स्वास्थ्य विभाग में भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई कर रहे हैं । दरअसल इस वीडियो में दिखाया गया है कि  दीपक रावत ने अस्पताल में औचक निरीक्षण किया जहां उन्होनें देखा की अस्पताल में बेसिक दवाइयां भी उपलब्ध नहीं है , जिसको लेकर उन्होनें अस्पताल में रखे सभी दस्तावेज की जांच की और उन्होनें देखा कि अस्पताल में सीनियर डॉक्टर मरीजों को दवाइयां बाहर से खरीदने को बोल रहे हैं जिसके चलते मरीजों को महंगे दामों पर दवाईयां खरीदनी पड़ रही हैं, जिसको लेकर दीपक रावत ने डॉक्टरों की जमकर लताड़ लगाई और डॉक्टरों की सैलरी तक रोकने के भी आदेश दिए ।

वहीं दूसरे वीडियो में जहां दीपक रावत ने RTO ऑफिस का औचक निरीक्षण किया जहां के नजारे को देखकर वे आश्चर्यचकित हो गए| दरअसल  एक शख्स जो कि अपनी स्कूटी का लाइसेंस बनवाने के लिए RTO ऑफिस पहुंचा जहां वह फॉर्म की मांग कर रहा था लेकिन ऑफिस में अधिकारी की कुर्सी पर अधिकारी का ड्राइवर बैठा था जिसने उस शख्स को फॉर्म देने से यह कहकर मना कर दिया कि फॉर्म देहरादून ऑफिस से मिलेगा । जिसको देखकर दीपक रावत ने अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की इसके साथ ही उच्च अधिकारियों को RTO ऑफिस का समय-समय पर निरीक्षण करने के आदेश दिए कि सरकारी अधिकारी ही आवेदक को फॉर्म दें| किसी तरह के दलाल ऑफिस में नहीं बैठे और आवेदकों को किसी तरह की कोई परेशानी का सामना नहीं करना पड़े ।

इसके अलावा DM रावत गरीबों की सहायता के लिए भी समय-समय पर प्रयास करते रहते हैं| हम इस वेबसाइट में दीपक रावत का तीसरा वीडियो शेयर कर रहे हैं जिसमें उन्होनें अपने-अपने घरों में खराब पड़े खिलौने और ऐसे खिलौने जिनका इस्तेमाल नहीं किया जाता है उन खिलाौनो को गरीब बच्चों को देने की अपील की है जिससे गरीब बच्चे भी ऐसे खिलौने से खेल सकें ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

 

Close