National

उधारी के पैसे ना देने पड़े इसलिए माँ ने अपने ही बेटे की करवाई हत्या, पुलिस ने खोली पोल

बरेली: इन दिनों भारत देश में क्राइम केस लगातार बढ़ते नज़र आ रहे हैं. लोगों के बीच लालच इतना बढ़ चुका है कि वह अपनी इंसानियत खो बैठे हैं और अपनों की जान के दुश्मन बन रहे हैं. कहते हैं एक माँ की ममता की तुलना भगवान से की जा सकती है, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि अगर कोई माँ ही शैतान का रूप धारण कर ले तो क्या होगा? दरअसल, हाल ही में उत्तरप्रदेश के बरेली जिले से एक ऐसा ही मामला हमारे सामने आया है. जहाँ एक माँ ने ममता को दागदार कर दिया. बताया जा रहा है कि इस महिला ने अपने एक बेटे के हाथों दुसरे बेटे का मर्डर करवा दिया. जब पुलिस को मामले की भनक लगी तो उन्होंने तुरंत इस कलयुगी माँ को गिरफ्तार कर लिया.

आखिर क्यूँ मरवाया बेटे को?

आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि हाल ही में पुलिस ने एक लड़के से उसकी भाई की हत्या करवाने के आरोप में एक महिला को गिरफ्तार किया है. पुलिस के अनुसार महिला ने इस पूरी घटना को इसलिए अंजाम दिया ताकि उसे किराने के दुकानदार से पुत्र द्वारा लिए ढाई लाख रुपये की उधारी ना चुकानी पड़े. मां द्वारा की गई इस साजिश ने ममता पर से लोगों का विश्वास हटा दिया है.

यह था पूरा मामला

पुलिसकर्मी सतीश कुमार के अनुसार यह पूरा मामला शीशगढ़ थाना क्षेत्र के गांव गिरधरपुर के निवासी विपिन (14) का है. दरअसल पुलिस को विपिन का शव बीते साल 23 दिसंबर को गांव के एक बाग मर पड़ा मिला था. जब पुलिस ने छानबीन की तो पता चला कि विपिन ने गांव के किराना दुकानदार राम अवतार मौर्य से ढाई लाख रूपये उधारी ली थी जिसको चुकाने में पूरा परिवार असमर्थ था.

शुरुआत में पुलिस का पूरा शक दुकानदार राम अवतार मौर्य पर था. लेकिन जब उन्होंने विपिन के जीजा राजेंद्र को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने सारा सच उगल दिया. घटना को अंजाम देने के बाद से ही गंगा देवी और उसका बेटा मानसिंह घर से फरार थे. वहीं पुलिस ने हाल ही में गंगा देवी को गिरफ्तार कर लिया है जबकि मानसिंह की तलाश अभी तक जारी है.

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

 

Close