Bollywood Movies

Netflix Original: ब्रिज मोहन नहीं हो पाए लोगों के दिलों में अमर 

आज के समय में फिल्में युवा पीढ़ी की पहली पसंद बन चुकी हैं। ऐसे में शायद ही कोई होगा जिसे फिल्में देखना अच्छा नहीं लगता हो। वहीँ बात अगर छोटी फिल्मों की करें तो आज कल यूथ जनरेशन में वेब ओरिजिनल सीरीज का क्रेज़ बढ़ता जा रहा है. अब बड़े बड़े फिल्म डायरेक्टर्स भी अपनी कोई ना कोई वेब सीरीज मार्किट में रिलीज़ कर रहे हैं. हाल ही में आई लेस्बियन सीरीज “माया2” और “सेक्रेड गेम्स” को दर्शकों का भरपूर प्यार मिला था जिसके बाद डायरेक्टर निखिल भट्ट ने नेटफ्लिक्स पर अपनी नई वेब सीरीज को उतारा.

इस सीरीज को ” ब्रिज मोहन अमर रहे” का नाम दिया गया था. ख़बरों की माने तो इस शॉट फिल्म को लेकर पूरी टीम काफी उत्साहित थी. लेकिन आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि ब्रिज मोहन अपना जलवा नहीं बिखेर पाए. दरअसल यह वेब सीरीज रिलीज़ होने के बाद ही फ्लॉप साबित हो गई.

क्या थी “ब्रिज मोहन” की कहानी?

एक रिपोर्ट के अनुसार नेटफ्लिक्स की “ब्रिज मोहन अमर रहे” के ट्रेलर को दर्शकों का काफी अच्छा रेस्पोंस मिला था जिसके बाद अनुमान लगाया जा रहा था कि यह शोर्ट फिल्म सुपर हिट साबित होगी लेकिन वो कहते हैं ना कि इंसान भले जितनी भी कोशिश कर ले लेकिन जब तक किस्मत उसका साथ ना दे, वह कुछ नहीं कर सकता. कुछ ऐसा ही इस वेब सीरीज के साथ भी हुआ जिसको शुरुआत में ही दर्शकों की अवहेलना का सामना करना पड़ा. वहीँ अगर बात इस सीरीज की कहानी की करें तो यह कहानी एक ऐसे व्यक्ति के इर्द गिर्द घूमती है, जोकि अपनी लिंगरी की शॉप चलाता है. फिल्म में  ब्रिज(अर्जुन माथुर) 24 वर्षीय सीमा नामक लड़की के लिए अपनी पत्नी स्वीटी को धोखा देता है जबकि सिमी एक लालची लड़की है. सिमी के साथ नई गृहस्थी बसाने के लिए वह अपनी पहचान बदल लेता है जिससे कहानी में  भ्रम और अराजकता का माहोल बन जाता है.

आखिर क्यूँ अमर नहीं हो पाए ब्रिज मोहन?

बात फिल्म की टाइमिंग की करें तो यह फिल्म कुछ ख़ास लंबी नहीं है बल्कि 1 घंटे 40 मिनट की है। लेकिन इस फिल्म की स्क्रिप्ट एवं पटकथा को ऐसे लिखा गया है जो लोगों को केवल 20 मिनट में ही बोर कर देती है। हालांकि अर्जुन माथुर समेत बाकी सभी कलाकारों ने काफी अच्छा काम किया है लेकिन इसके बावजूद भी स्क्रिप्ट कमजोर होने के चलते यह फिल्म दर्शकों के दिलों में घर नहीं कर पाई. फिल्म में निधि सिंह (ब्रिज मोहन की पत्नी) एक ऐसी पंजाबी हाउसवाइफ का किरदार निभाती हैं जिन्हें अपने फिगर और पैसे के इलावा कुछ नजर नहीं आता. इसके इलावा फिल्म में भ्रष्ट न्यायाधीश सिन्हा के रूप में योगेंद्र टिकु का किरदार मनोरंजक और ‘असली’ है.

 

 

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

 

Close